स्वास्थ्य अब आएगी सुकून भरी नींद, ये पिलो स्प्रे कर...

अब आएगी सुकून भरी नींद, ये पिलो स्प्रे कर देगा कमाल

-

क्या आपको भी रात में नींद नहीं आती है? या ऐसा होता है कि रात भर सोने के बाद भी सुबह थकान और आलस रहती है? अगर ऐसा है तो इसका मतलब ये है कि आपकी नींद अच्छी नहीं है। नींद अगर ठीक से पूरी न हो, तो दिनभर थकान के कारण काम करने में परेशानी तो होती ही है।

- Advertisement -

पिलो स्प्रे

अगर आप घर पर बने खास पिलो स्प्रे (तकिए पर खास सुगंधित छिड़काव) का इस्तेमाल करें, तो आपको भी रात भर सुकून भरी गहरी नींद आएगी और सुबह आप फ्रेश महसूस करेंगे।

यह भी पढ़ें:- Mission Gaganyaan: मिल गई कैबिनेट से मंजूरी… अंतरिक्ष में भारत भेजेगा 3 एस्ट्रोनॉट 

आइए आपको बताते हैं कि घर पर आप ये पिलो स्प्रे कैसे बना सकते हैं और कैसे करें इसका इस्तेमाल।

स्प्रे बनाने के लिए सामग्री

  • एक स्प्रे बॉटल
  • आपका पसंदीदा इसेंशियल ऑयल
  • 1 चम्मच रबिंग एल्कोहल
  • 20 बूंद लैवेंडर ऑयल
  • 10 बूंद बर्मागॉट इसेंशियल ऑयल

कैसे बनाएं पिलो स्प्रे

  • सबसे पहले कांच के एक बर्तन में एक चम्मच रबिंग एल्कोहल डालें।
  • अब 10 बूंद अपनी पसंद का इसेंशियल ऑयल मिलाएं। (चंदन, चमेली, गुलाब, गोंद आदि का तेल)
  • 10 बूंद गुलाब जल।
  • 20 बूंद लैवेंडर ऑयल मिलाएं।
  • अब धीरे-धीरे पानी मिलाते हुए इसे चम्मच से चलाते रहें।
  • जब आपको अपनी मनपसंद खुश्बू मिल जाए, तो इसे स्प्रे बॉटल में भर लें।
  • ध्यान दें कि अगर इस स्प्रे को कांच के बर्तन में बनाएंगे, तो खूश्बू ज्यादा अच्छी आएगी।

कैसे करें प्रयोग

अगर आप स्लीप एप्निया, नींद की कमी, नींद से जागने, तनाव और थकान जैसी समस्याओं से परेशान हैं, तो रोज रात में सोने से पहले पिलो स्प्रे का प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए सोने से पहले अपने हाथ-पैर और मुंह को नॉर्मल पानी से धोएं और फिर सोने के लिए बिस्तर पर लेटने से पहले अपने तकिए, चादर और कमरे में इस विशेष खुश्बूदार मिश्रण को स्प्रे करें। इससे सोने संबंधी आपकी सभी समस्याएं आसानी से ठीक हो जाएंगी।

यह भी पढ़ें:- कानपुर वासियों के लिए बड़ी सौगात, जल्द मिलेगी बोइंग विमान सेवा 

क्यों फायदेमंद है पिलो स्प्रे

पिलो स्प्रे का छिड़काव नींद की समस्याओं को ठीक करता है क्योंकि ये एक तरह की एरोमाथेरेपी है। कुछ खास तेलों जैसे- लैवेंडर ऑयल, बर्मागॉट ऑयल और रोज़ ऑयल आदि के प्रयोग से व्यक्ति को नींद बहुत अच्छी आती है। नींद गहरी और शांत होने से शरीर की थकान मिट जाती है।

- Advertisement -

Latest news

समाजवादी पार्टी ने जारी किया घोषणा पत्र, रोजगार, शिक्षा और किसानों के विकास के साथ अहम मुद्दा…

2027 तक दो करोड़ रोजगार का सृजन किया जाएगा। 2025 तक सभी किसानो को कर्जा मुक्त किया जाएगा, साथ ही सभी दो पहिया मालिकों के लिए 1 लीटर और चार पहिया मालिकों के लिए 3 लीटर मुफ्त पेट्रोल देने का भी वादा किया है।

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

कोविड से मरने वालों के सरकारी आंकड़ो को आईना दिखाती, बीबीसी की विशेष पड़ताल

मुराद बानाजी ने बीबीसी से कहा कि वो ये मानते हैं कि देश भर में कोरोना की मौतें कम-से-कम पांच गुना कम करके बताई गईं।
- Advertisement -

महामारी से निपटने के लिए देश में तैयार किए जाएंगे एक लाख ‘कोरोना योद्धा’

कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूती प्रदान करने के लिए सरकार एक लाख से अधिक कोरोना योद्धा तैयार करेगी।...

जानिए किस आधार पर जारी होंगे 12वीं के परिणाम, क्या है सीबीएसई का 30-20-50 का फार्मूला

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के लिए बिना परीक्षा के 12वीं के परिणाम को जारी करना एक बड़ी चुनौती...

Must read

समाजवादी पार्टी ने जारी किया घोषणा पत्र, रोजगार, शिक्षा और किसानों के विकास के साथ अहम मुद्दा…

2027 तक दो करोड़ रोजगार का सृजन किया जाएगा। 2025 तक सभी किसानो को कर्जा मुक्त किया जाएगा, साथ ही सभी दो पहिया मालिकों के लिए 1 लीटर और चार पहिया मालिकों के लिए 3 लीटर मुफ्त पेट्रोल देने का भी वादा किया है।

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

You might also likeRELATED
Recommended to you