स्वास्थ्य संगरोध अवधि: 10 अविश्वसनीय रूप से आसान अभ्यास करने...

संगरोध अवधि: 10 अविश्वसनीय रूप से आसान अभ्यास करने के लिए जब आप घर पर फंस रहे हैं हुक करने के लिए

-

परियों की कहानी

- Advertisement -

यदि आप इंटरनेट या किसी भी स्वास्थ्य वेबसाइट पर हाल ही में गए हैं, तो एक बात जो हर किसी पर जोर दे रही है, वह है नियमित रूप से इस लॉकडाउन अवधि में काम करना। इसके अलावा, इस अचानक बदलाव से हमारे जीवन में एक बहुत बड़ा बदलाव आया है, जिसके कारण दिनचर्या में शामिल होना मुश्किल हो जाता है। लेकिन अभी, अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने के लिए, नियमित रूप से व्यायाम करना, बेहद आवश्यक है। यह मानसिक और शारीरिक रूप से दोनों को फिट रहने में मदद करता है।

यद्यपि, यदि आप घर से काम कर रहे हैं, तो हमारी तरह, एक व्यस्त दिनचर्या में सरल अभ्यास को निचोड़ना थोड़ा कठिन हो सकता है। इसलिए, हमने आपको कुछ आसान वर्कआउट रूटीन से परिचित कराकर एक गतिहीन जीवन शैली से बाहर निकलने में मदद करने के बारे में सोचा। केवल एक चीज जो आपको चाहिए वह है वर्कआउट आउटफिट और योगा मैट। न्यूनतम प्रयासों और अधिकतम परिणामों के साथ, आप इन 10 अभ्यासों को नियमित रूप से कर सकते हैं।

योगा पुस ऑपस

ये आपके मानक पुश-अप्स की तरह हैं, लेकिन हिप हाइक के अतिरिक्त ट्विस्ट के साथ। पुश-अप स्थिति में आने से शुरू करें, और फिर अपने कूल्हों को हवा में ऊपर उठाएं। अब आप एक उल्टे V स्थिति में होंगे। फिर, अपने कूल्हों को धीरे-धीरे नीचे लाएं, अपनी छाती को फर्श के करीब ले जाएं और वापस पुश-अप स्थिति में लाएं। फिर उलटे वी स्थिति में वापस जाएं और दोहराएं।

लंग्स

अपने पैरों को कंधे की चौड़ाई से अलग करके शुरू करें। फिर, एक पैर को एक व्यापक रुख के साथ आगे बढ़ाएं, आपका एक पैर दूसरे के सामने होना चाहिए। फिर अपने शरीर को नीचे करें और अपने टखने को डुबोएं। इस अभ्यास के दौरान, आपका शरीर एक स्थिर स्थिति में स्थिर, रीढ़ की हड्डी और कंधे सीधे रहना चाहिए।

- Advertisement -

Latest news

समाजवादी पार्टी ने जारी किया घोषणा पत्र, रोजगार, शिक्षा और किसानों के विकास के साथ अहम मुद्दा…

2027 तक दो करोड़ रोजगार का सृजन किया जाएगा। 2025 तक सभी किसानो को कर्जा मुक्त किया जाएगा, साथ ही सभी दो पहिया मालिकों के लिए 1 लीटर और चार पहिया मालिकों के लिए 3 लीटर मुफ्त पेट्रोल देने का भी वादा किया है।

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

कोविड से मरने वालों के सरकारी आंकड़ो को आईना दिखाती, बीबीसी की विशेष पड़ताल

मुराद बानाजी ने बीबीसी से कहा कि वो ये मानते हैं कि देश भर में कोरोना की मौतें कम-से-कम पांच गुना कम करके बताई गईं।
- Advertisement -

महामारी से निपटने के लिए देश में तैयार किए जाएंगे एक लाख ‘कोरोना योद्धा’

कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूती प्रदान करने के लिए सरकार एक लाख से अधिक कोरोना योद्धा तैयार करेगी।...

जानिए किस आधार पर जारी होंगे 12वीं के परिणाम, क्या है सीबीएसई का 30-20-50 का फार्मूला

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के लिए बिना परीक्षा के 12वीं के परिणाम को जारी करना एक बड़ी चुनौती...

Must read

समाजवादी पार्टी ने जारी किया घोषणा पत्र, रोजगार, शिक्षा और किसानों के विकास के साथ अहम मुद्दा…

2027 तक दो करोड़ रोजगार का सृजन किया जाएगा। 2025 तक सभी किसानो को कर्जा मुक्त किया जाएगा, साथ ही सभी दो पहिया मालिकों के लिए 1 लीटर और चार पहिया मालिकों के लिए 3 लीटर मुफ्त पेट्रोल देने का भी वादा किया है।

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

You might also likeRELATED
Recommended to you