गांव कनेक्शन

उत्तर प्रदेश के गांव में बच्चों को मुफ्त मिलेगी दवा किट, जानिए क्या है पूरी स्कीम

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से बच्चों को बचाने के लिए लगातार प्रयासरत है। कोरोना की तीसरी लहर की...

समाज को आईना दिखा रहे हैं ये युवा, टीम तुलसीपुर कर रही शानदार काम

बलरामपुर। कोरोना की मार पूरी दुनिया झेल रही है, भारत में भी यह महामारी पांव पसार चुका है। देश में लॉक डाउन चल रहा...

किसानों के लिए सिंजेंटा ने लांच किया किसान-हेल्पलाइन

कोविड-19 की वजह से किसानों को खेती में जो भी समस्या हो रही है, उसका समाधान जानना हो या फिर मुफ्त में फसल संबंधी...

नारायणपुर के युवाओं से लेनी चाहिए प्रेरणा, ऐसे लड़ रहे कोरोना के खिलाफ लड़ाई

बलिया। भारत में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है, हालांकि इसी बीच सुखद बात यह है कि शहरों से लेकर गावों तक में...

शीतल दवनी के युवाओं ने ग्रामप्रधान को दिखाया आईना

बलिया, बलिया,ग्रामसभा शीतल दवनी के युवाओं ने ग्राम प्रधान को आईना दिखाते हुए आत्मनिर्भर तरीके से खुद गांव को सेनेटाइज कर डाला। शीतल दवनी निवासी मुकेश...

खजनी : बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में पहुंचे सपा MLC संतोष यादव ‘सनी’, पूर्व जिला सचिव राम हर्ष यादव भी रहें मौजूद

गोरखपुर। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आदेश के बाद सभी विधानसभा क्षेत्रों में तीन अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक होने वाले...

Latest news

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

कोविड से मरने वालों के सरकारी आंकड़ो को आईना दिखाती, बीबीसी की विशेष पड़ताल

मुराद बानाजी ने बीबीसी से कहा कि वो ये मानते हैं कि देश भर में कोरोना की मौतें कम-से-कम पांच गुना कम करके बताई गईं।

Must read

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

You might also likeRELATED
Recommended to you

माधुरी दीक्षित कोरोनोवायरस क्वारंटाइन का “मेकिंग द मोस्ट” कैसे है

माधुरी दीक्षित अपने परिवार के साथ अधिक "गुणवत्ता समय"...

देश में 3 साल में इथेनॉल उत्पादन दोगुना करने का लक्ष्य, जानिए क्या है पूरी नीति

एथेनॉल उत्पादन की प्रोत्साहन योजना के मद्देनजर देश के...