राजनीतिक किस्से

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में हो रहा कोरोना से होने वाली मौतों के आंकड़ों में घोटाला

करोना से मौत होने पर परिजनों को बीमा राशि नहीं मिल पा रही है। मृत्यु प्रमाण पत्र में कोरोना से मौत का जिक्र ना...

उत्तर प्रदेश की राजनीति में क्या होने वाला है बड़ा ‘फेरबदल’

उत्तर प्रदेश के तेज हुए सियासी घटनाक्रम में गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अचानक दिल्ली पहुंचे और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।...

देश के अन्नदाताओं को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया

केंद्र सरकार ने किसानों के हित में बड़ा फैसला लेते हुए बुधवार को खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) का ऐलान कर दिया...

राहुल और प्रियंका के करीबी जितिन प्रसाद ने थामा भाजपा का दामन

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता जितिन प्रसाद ने बुधवार को नई दिल्ली में...

पश्चिम बंगाल में भाजपा को मिला मिथुन दा का साथ! बन सकते हैं पार्टी का सिएम फेस..

पश्चिम बंगाल विधानसभा के चुनाव से पहले भाजपा को फिल्म अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती का साथ मिल गया। राज्य के ऐतिहासिक ब्रिगेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री...

भारत और चीन ने 10 वें दौर की सैन्य वार्ता की; पूर्वी लद्दाख में होने वाले विघटन पर ध्यान केंद्रित

कमांडर-स्तरीय वार्ता का 10 वां दौर चीनी और भारतीय सेनाओं द्वारा एक समझौते के तहत पैंगोंग झील क्षेत्रों के उत्तर और दक्षिण बैंकों से...

नरेंद्र मोदी भाषण: पीएम ने किया तालाबंदी, कांग्रेस ने पूछा कि गरीबों के लिए क्या राहत है

पीएम नरेंद्र मोदी ने 3 मई तक देश के पूर्ण लॉकडाउन के विस्तार की घोषणा की है। पीएम मोदी दिनों दिन बहुत आशंका...

Latest news

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

कोविड से मरने वालों के सरकारी आंकड़ो को आईना दिखाती, बीबीसी की विशेष पड़ताल

मुराद बानाजी ने बीबीसी से कहा कि वो ये मानते हैं कि देश भर में कोरोना की मौतें कम-से-कम पांच गुना कम करके बताई गईं।

Must read

विवादित कृषि कानूनों की वापसी, ह्रदय परिवर्तन या यूपी इलेक्शन चुनाव को तैयारी

सरकार तीनो किसान कानूनो को वापस लेने के एक ही विधेयक पारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इस विधेयक को पारित किया जा सकता है। बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से शुरु हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

You might also likeRELATED
Recommended to you

विंडीज के ‘WASTE’ सेलेक्शन से AUSTRALIA में भी TEAM INDIA की हार तय!

लारा दद्दा को कित्ता बुरा लग रहा होगा!