Most recent articles by:

Akriti Awasthi

देश में वैक्सीन से पहली मौत की पुष्टि, क्या सच में घातक है कोरोना वैक्सीन

कोरोना वैक्सीन टीके के दुष्प्रभाव का अध्ययन कर रही सरकार की एक समिति ने टीकाकरण के बाद एनाफिलेक्सिस (जानलेवा एलर्जी) की वजह से मृत्यु...

जानिए उत्तर प्रदेश में 21 तारीख से किन स्थानों पर मिलेगी ढील

कोरोना संक्रमण की कम होती दर के मद्देनजर योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में अगले सोमवार यानी 21 जून से एक और रियायत बरती...

ट्विटर का इंटरमीडियरी का दर्जा खत्म, जानिए क्या है पूरा मामला

सरकार के बार-बार चेतावनी देने के बावजूद ट्विटर द्वारा इंटरनेट मीडिया के नए नियमों का पालन नहीं करने पर ट्विटर का इंटरमीडियरी (मध्यस्थ) का...

देश में 3 साल में इथेनॉल उत्पादन दोगुना करने का लक्ष्य, जानिए क्या है पूरी नीति

एथेनॉल उत्पादन की प्रोत्साहन योजना के मद्देनजर देश के 22 राज्यों में 422 एथेनॉल उत्पादन संयंत्र स्थापित करने के आवेदनों को केंद्र सरकार ने...

उत्तर प्रदेश के गांव में बच्चों को मुफ्त मिलेगी दवा किट, जानिए क्या है पूरी स्कीम

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से बच्चों को बचाने के लिए लगातार प्रयासरत है। कोरोना की तीसरी लहर की...

Must read

उत्तर प्रदेश में “टू चाइल्ड पॉलिसी” चुनावी स्टंट या वक्त की मांग

मसौदे में इस बात पर सिफारिश की गई है कि दो बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय निकायों के चुनाव में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं देना, सरकारी नौकरी में आवेदन करने और प्रमोशन पर रोक लगाने जैसे मांग उठाना। साथ ही ये सुनिश्चित करना कि ऐसे लोगों को सरकार की ओर से मिलने वाले किसी भी लाभ से वंचित रखा जाए मौजूद है।

कोविड से मरने वालों के सरकारी आंकड़ो को आईना दिखाती, बीबीसी की विशेष पड़ताल

मुराद बानाजी ने बीबीसी से कहा कि वो ये मानते हैं कि देश भर में कोरोना की मौतें कम-से-कम पांच गुना कम करके बताई गईं।